ताजा खबरें

    Punjab ASI Murder: अकाली दल के प्रधानमंत्री मान पर हमला करते हुए, उन्होंने कहा, “पंजाब के हालात

    Punjab ASI Murder

    Punjab ASI Murder: अमृतसर देहात के थाना जंडियाला में कार्यरत एसआई सरूप सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई। इसलिए अकाली दल ने आपकी सरकार को घेर लिया है।

    पंजाब के अमृतसर में एक एसआई की गोली मारकर हत्या का मामला सामने आया है। मृतक एसआई सरूप सिंह अमृतसर देहात के थाना जंडियाला में कार्यरत थे। सरूप सिंह की लाश पर हत्या, आर्म्स एक्ट सहित कई धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। साथ ही एसआई सरूप सिंह का शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। शिरोमणि अकाली दल (SAD) ने मुख्यमंत्री भगवंत मान को एसआई की हत्या का दोषी ठहराया है।

    एसआई सरूप सिंह अपनी जिम्मेदारियों को पूरा करने जा रहे थे। इस दौरान, रास्ते में बाइक सवार हमलावरों ने उसे गोली मार दी। एसआई सरूप सिंह मौके पर ही इससे मर गए। वर्तमान जांच से पता चला है कि अपराधियों ने रात में एसआई सरूप सिंह को गोली मार दी थी। शुक्रवार सुबह घटना का पता चला। मौके पर अमृतसर देहात पुलिस के अधिकारी पहुंचे। इस इलाके में हुई वारदात एक औद्योगिक क्षेत्र में हुई है, जहां बहुत कम लोग आते हैं और किसी को भी वारदात के बारे में पता नहीं है।

    पुलिस क्षेत्र के सीसीटीवी फुटेज प्राप्त करने में व्यस्त

    किसी राहगीर ने सुबह पुलिस कंट्रोल रूम में घटना की सूचना दी। पुलिस क्षेत्र की सीसीटीवी फुटेज जुटाने में लगी है। घटनास्थल से दूर एक सीसीटीवी फुटेज खंगाला जा रहा है। जिस स्थान पर घटना हुई, लगता है कि आरोपी पहले से जानते थे कि एसआई सरूप सिंह इस रास्ता से आते-जाते हैं। हत्या करने वाले आरोपियों की संख्या अभी नहीं पता चली है।

    बिक्रम सिंह मजीठिया ने लक्ष्य दिया

    अकाली दल के वरिष्ठ नेता बिक्रम सिंह मजीठिया ने सीएम भगवंत मान को एसआई सरूप सिंह की हत्या को लेकर घेरा है। “पंजाब के हालात देखिए, जंडियाला गुरु पुलिस स्टेशन में तैनात एएसआई सरूप सिंह की आज सुबह खानकोट सुआ में अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी,” उन्होंने एक्स पर पोस्ट किया। जबकि पंजाब में हत्या, रंगदारी, डकैती और दैनिक लूटपाट की घटनाएं हो रही हैं, पंजाब मुख्यमंत्री भगवंत मान ने पहले पीएपी ग्राउंड जालंधर, फिर पीएयू लुधियाना और कल लुधियाना में कार्यक्रमों का आयोजन किया।「

    Visited 1 times, 1 visit(s) today

    प्रातिक्रिया दे

    आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *